भाजपा के सहयोगी विधायक ने कश्‍मीर में मारे गए आतंकवादियों को बताया.... - वायरल इन इंडिया - Viral in India - NEWS, POLITICS, NARENDRA MODI

भाजपा के सहयोगी विधायक ने कश्‍मीर में मारे गए आतंकवादियों को बताया….

जम्मू कश्मीर की सत्ताधारी पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी के एक विधायक एजाज अहमद मीर ने कह दिया है कि आतंकवादी मेरे भाई हैं। वो शहीद हो रहे हैं और उनके मरने पर जश्न न मनाया जाए। पीडीपी विधायक के इस बयान ने विपक्षी पार्टी कांग्रेस को केंद्र सरकार और सत्ताधारी भाजपा को घेरने का मुद्दा दे दिया है।

विपक्ष ने उठाए सवाल

भाजपा सुरक्षा बलों को शहीद मानती है और सहयोगी पार्टी पीडीपी के विधायक के लिए आतंकवादी शहीद हैं। कांग्रेस ने इस पर भाजपा के हाईकमान को अपनी स्थिति साफ करने के लिए कहा है।

शोपियां जिले के वाची इलाके के विधायक एजाज अहमद मीर ने विधानसभा के बाहर पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि आतंकवादी हमारे अपने लोग हैं, वो कश्मीरी बच्चे हैं जिनके मरने पर खुशी नही मनानी चाहिए। उन्होंने साफ किया कि 200 मारे गए हैं तो इतने ही नए आ गए हैं। उन्हें मारने से कोई फायदा नहीं होगा।

पीडीपी के विधायक ने जोर दिया कि केंद्र सरकार को कश्मीर मसले का राजनीतिक हल निकालना चाहिए। ऐसे में केंद्र सरकार के वार्ताकार दिनेश्वर शर्मा मसले का समाधान करने के लिए हुरिर्यत कांफ्रेंस से भी बातचीत करें।

सत्ताधारी पार्टी के विधायक के आतंकवादियों को अपना भाई कहने के मुद्दे पर सियासत गर्माने लग गई है। सत्ताधारी विधायक के विवादस्पद बयान पर कांग्रेस पूरी तरह से मुखर हो गई है।

कांग्रेस ने घेरा

कांग्रेस विधायक दल के नेता रिगजिन जोरा ने कहा है कि अगर आतंकवादी शहीद हैं तो आतंकवाद का सामना करते हुए जान दे रहे सुरक्षा कर्मी क्या हैं।

जोरा ने विधानसभा के बाहर पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को इस बयान पर साफ करना चाहिए। भाजपा बताए कि उनकी सहयोगी पार्टी क्या चाहती है।

आतंकवादी भाई नहीं, देश के दुश्मन हैं

सत्ताधारी पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी के विधायक एजाज अहमद मीर के आतंकवादियों को भाई और शहीद कहने के मुद्दे पर भाजपा भी खुलकर मैदान में आ गई है।

भाजपा हाईकमान ने भी इस बयान को गंभीरता से लिया है और ऐसे में उपमुख्यमंत्री डॉ. निर्मल सिंह ये मुद्दा मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती से भी उठा सकते हैं।

भाजपा सुरक्षा बलों को शहीद मानती है तो सहयोगी पार्टी के सदस्य सुरक्षा कर्मियों पर हमले करने वालों को शहीद बता रही हैं।

भाजपा विधायक ने कहा कि संविधान की शपथ लेने वाले सत्ताधारी विधायकों को इस तरह से आतंकवादियों का हौंसला नहीं बढ़ाना चाहिए। पीडीपी विधायक का ये कहना भी भाजपा पर प्रहार है कि आतंकवादियों के मरने पर खुशी नहीं मनानी चाहिए।

भाजपा सुरक्षाबलों के हाथों आतंकवादियों के मारे जाने को सरकार की सफलता मानती है।

पीडीपी विधायक इसका विरोध कर रहे हैं। राज्य में आतंकवाद का सामना कर रहे सुरक्षा बलों के हौसले की सराहना करते हुए भाजपा नेता ने कहा कि शहीद वो लोग हैं जो देश की खातिर अपनी जान की बाजी लगा रहे हैं।

source;http://dainikaaj.in/pdp-mla-calls-kashmiri-militants-our-brothers-and-killed-in-encounters-martyrs/

Related Articles

Close