अभी अभी: 15 अगस्त को भी नहीं माना मोदी, जनता से फिर बोला इतना बड़ा झूठ

By:- Viral in India Team on

नरेन्द्र मोदी और उनकी सरकार द्वारा बोले गये झूठ पर एक मोटी पुस्तक लिखी जा सकती है | मोदी का एक 15 अगस्त का भाषण बेहद प्रसिद्ध है और वो उनके बोले गये झूठो के कारण |

लाल किले से जो भाषण दिया उसमें अर्थव्यवस्था पर, किसानों की जीवनस्थिति पर ग़लत तथ्य दिये गये थे; गाँवों की बिजली के बारे में जो तथ्य दिये गये थे, वे भी ग़लत थे |

मोदी सरकार आज जिन योजनाओं की उपलब्धियों के बल पर तारीफ बटोर रही है वो उनकी नहीं बल्कि पिछली सरकार की है | बहरहाल मोदी जी के जिन झूठो के बारे में हम बात कर रहे है उनका मीडिया और जनता ने उसी वक़्त पर्दाफाश कर दिया था | चलते है मोदी जी के द्वारा बोले गये झूठो पर |

पहला झूठ: “किसानों का 99 प्रतिशत गन्ना भुगतान हो चुका है।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में कहा था की किसानों का 99 प्रतिशत गन्ना भुगतान हो चुका है। जो कुछ स्थानों पर 50 प्रतिशत भी नहीं हुआ है। लोकदल के राष्ट्रीय महासचिव त्रिलोग त्यागी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 15 अगस्त को लाल किले से देश के किसानों के लिए झूठ बोला।

रालोद कैंप कार्यालय पर लोकदल के राष्ट्रीय महासचिव त्रिलोक त्यागी ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि ‘किसानों के गन्ने का 99 प्रतिशत भुगतान हो चुका है। यह उन्होंने झूठ बोला। देश का किसान सब देख रहा है।” इसके बाद आजतक की टीम ने भी बागपत और मुज्जफरनगर जाकर गन्ना किसानो से बात की और पाया की मोदी सरासर झूठ बोल रहे थे |

दूसरा झूठ: 70 साल बाद बिजली पहुंचाने का दावा!

नरेन्द्र मोदी का दूसरा झूठ, जिसमे उन्होंने एक गाँव का ज़िक्र करते हुए कहा की यह 70 साल से बिजली नही है और अब भाजपा सरकार के अंतर्गत यह बिजली लायी गयी जो बाद में गाँव के लोगो ने ही ख़ारिज कर दिया |

हाथरस के नगला फैतेला गांव जहाँ  लगभग 600 घर हैं जिनमें से 450 घरों में बिजली बिल्कुल ही नहीं आती है और जिन 150 घरों में बिजली पहुंच रही है वो भी गैरकानूनी तरीके से मिलती है। जिसमें उन लोगों को दो महीने में 395 रुपए देने पड़ते हैं।

नगला फतेला दिल्ली से 300 किमी की दूरी पर है जहां 3500 लोग रहते हैं और ये गांव उन 10045 गांवों में से एक है जो प्रधानमंत्री विद्युतीकरण योजना के अंतर्गत है। विद्युत मंत्रालय के अनुसार 18475 गांव का विद्युतीकरण मई 2017 तक पूरा हो जाएगा।

गांव वालों का कहना है कि दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के अंतर्गत गांव में खम्भे, मीटर और तारें लग चुकी हैं। वो कहते हें कि स्वतंत्रता दिवस के दिन मोदी ने टीवी देखते हुए जिन लोगों की जो तस्वीरें शेयर की हैं वो उस गांव की नहीं है और बैलून वाली तस्वीरें साथ वाले गांव से हो सकती हैं।

तीसरा खूठ: 350 रुपये में मिलने वाला LED बल्ब आज 50 रुपये में

नरेन्द्र मोदी ने जो तीसरा झूठ बोला है वो ये की उनकी सरकार 350 का बल्ब केवल 50 रूपए में बाट रही है जिस पर एक दुकानदार ने कहा की 50 रूपए में कोई बल्ब नही आता और अगर आता भी है तो वो चाइना का माल है मात्र 2 या 3 दिन ही चलता है |

देखिये वीडियो:-

--- ये खबर वरिष्ठ पत्रकार के द्वारा लिखी गयी है वायरल इन इंडिया न्यूज़ पोर्टल के लिए

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट मैं छोड़े