मुस्लिमों का बच्चा पैदा करना भी बीजेपी को गवारा नहीं, मुस्लिम समाज करेगा विरोध,पढ़ें

शेयर करें

एक तरफ बीजेपी सबका साथ, सबका विकास की बात करती है तो दूसरी तरफ उसका हिन्दू प्रेम नजर आ जाता है. या यूँ कहूँ की वोट नजर आ जाते है. जी हाँ हाल ही में एक बीजेपी लीडर का ऐसा बयान आया है. जिसे सुनकर देश का हर मुस्लिमों को बीजेपी की सोच का पता चल जाएगा.

बीजेपी लीडर ने ऐसा बयान दिया है की खुद बीजेपी को इस बयान पर दस बार सोचना पड़ेगा क्योंकि वो बाते तो सबके साथ और सबके विकास की करती है पर जब बारी साथ देने की आती है तो वो सिर्फ अपना फायदा देखती है.

1.रेप और आंतकवाद मुस्लिमों के कारण बढ़ रहा है

बीजेपी सांसद हरिओम पांडेय ने कहा की देश में बढ़ते आंतकवाद और रेप का कोई जिम्मेदार है तो वो मुस्लिमों की बढती जनसंख्या हैं. पांडेय ने यह भी कहा की अगर ऐसे ही इनकी आबादी बढती रही तो भारत के अंदर दूसरा पाकिस्तान पनपने लग जाएगा.

एक बड़ी पार्टी के नेता होने के बावजूद जो सबके साथ की बात करते है उस पार्टी के नेता के मुहं से ऐसी बातें अच्छी नहीं लगती है. बीजेपी सांसद के इस बयान के अनेक मुस्लिम पार्टियों ने विरोध भी किया है पर अभी तक बीजेपी की तरफ से इस बयान पर किसी भी तरह की चर्चा नहीं हुई है.

2. असदुद्दीन ओवैसी ने उठाया मामला

देखिये वीडियो:-

हाल ही में ओवैसी ने बीजेपी नेता का इंटरव्यू शेयर करते हुए कहा की यह है इनकी सोच, जो पार्टी पुरे भारत पर राज कर रही है उस पार्टी के नेता ऐसी बातें करते हैं. उन्होंने यह भी कहा की अगर ऐसी ही बातें करनी है तो कोई भी मुस्लिम आपसे डरेगा नहीं.

उन्होंने लिखा ‘ वाह प्रधानमंत्री जी आपकी पार्टी के अनमोल रत्न जो कहते हैं कि मुस्लिमों की आबादी आंतकवाद और रेप की घटनाओ को बढ़ावा देते हैं’ एक तरफ आप सबका साथ और सबके विकास की बातें करते हो और दूसरी तरफ यह हरकत. अब आप क्या कहेंगे?

3.दो-तीन शादियाँ और 9-10 बच्चे बस यहीं तक सिमित है मुस्लिम समाज

हरिओम पांडेय ने कहा की मुस्लिम लोग दो-तीन शादी करते है और 9-10 बच्चे पैदा करते हैं. आगे चलकर वो बच्चे पढ़ते है नहीं और किसी भी तरह का ज्ञान ना होने पर वो अपराध की तरफ बढ़ जाते हैं.

बस यही तक वो सिमित है, अगर ऐसा लगातार होता रहा तो एक दिन ऐसा आएगा की भारत में एक और पाकिस्तान की मांग उठ जायेगी और इस बार भारत का कौनसा हिस्सा देना पड़ेगा वो भी सोचना होगा.

निष्कर्ष: बीजेपी के लीडर के मुहं से ऐसी बातें अच्छी नहीं लगती है, एक तरफ बीजेपी कहती है की हम सबका साथ चाहते है और सबका विकास चाहते है. दूसरी तरफ उनकी मुस्लिमों के प्रति नफरत अब मोदी जी कोनसा जूमला लायेंगे


शेयर करें

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े