जानकार हैरानी होगी लेकिन एक साल में मोदी बन गये ‘फेकू’ से ‘पप्पू और गप्पू’

सोशल मीडिया को अगर नामांकरण का प्लाटफॉर्म भी कहा जाये तो कुछ गलत नहीं होगा | ज्यादा वक़्त नहीं लगता किसी भी हस्ती का एक से कई नाम रखने में और अगर वो लोगो के दिल को छू जाए तो समझ लीजिये फलाने आदमी को अब इस नाम से भी पुकारा जायेगा |

जी बात हो रही है देश के प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी की जिन्हें सोशल मीडिया में, साहेब, फेकू, चायवाला, न जाने कितने नामो से बुलाया जाता है जिनमे से ये नाम ही प्रसिद्ध है | पर अब इस दिक्षनरी में एक नया नाम जुड़ गया है |

इस एक साल में मोदी अब फेकू से गप्पू बन गये है | हिंदी भाषा की कम जानकारी रखने वाले को बताते चले गप्पू उसे कहा जाता है जो केवल बड़ी बड़ी बाते करता है लेकिन काम कुछ नहीं |

कहाँ से आया ये नाम: गप्पू?

इंडिया टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, कांग्रेस का सोशल मीडिया इन दिनों रणदीप सुरजेवाला और दीपेन्द्र हूडा संभाल रहे है जिन्होंने अब बीजेपी के सोशल मीडिया से लोहा लेने की ठानी है | भाजपा के सोशल मीडिया में इस वक़्त 2000 की तादाद में में लोग काम कर रहे है जो मोदी के विरोधियो को न सिर्फ काउंटर करते है बल्कि अफवाहे भी फैलाते है |

कांग्रेस ने भी अपना सोशल मीडिया मजबूत करते हुए लोगो को सच्चाई से अवगत कराने का ज़िम्मा लिया है जिसमे वे मोदी के नाम से कई हैशटैग चलवाते है | जैसे जुमलादिवस, या फेकू पर इनमे से एक नया ट्रेंड आया है और वो है गप्पू | #गप्पूइनचाइना |

मोदी सरकार का पहला बर्थडे बना ‘जुमला दिवस’

आपको अगर याद होगा तो मोदी सरकार के एक साल पूरा करते ही ट्विटर में कुछ हैशटैग कुलाचे मार रहे थे जैसे #रेस्टइनपीसअच्छेदिन यानी अच्छे दिनों का वादा गुजर गया और #जुमलादिवस | इनके पीछे का कारण ये था की पेट्रोल कीमतों में इजाफे को आम आदमी पर एक असंवेदनशील सरकार का हमला बताने वाली BJP पेट्रोल और डीजल की लगातार बढ़ती कीमतों पर ज्यादा कुछ करती हुई नहीं दिख रही थी |


सोशल मीडिया पर साफ लग रहा था कि लोग पेट्रोलियम कीमतों में इजाफे को लेकर नाराज हैं। तेल कंपनियों ने शुक्रवार ही डीजल और पेट्रोल कीमत बढ़ाई थीं। 16 मई, 2014 को मोदी के पक्ष में जनादेश का फैसला आया था और 26 मई को मोदी सरकार ने शासन करने की शपथ ली थी |

न्यूज़ सोर्स: http://www.indiatimes.com/news/india/a-brief-story-of-how-modi-went-from-feku-to-gappu-in-a-year-232964.html

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

पोपुलर खबरें