मोदी की किसान रैली हुई फेल, खाली रहीं कुर्सियां और किसानों ने विरोध में दिखाए काले झंडे, पढ़ें

शेयर करें

साल 2019 में लोकसभा चुनाव होने वाले हैं। सभी राजनीतिक पार्टियों ने जनता को लुभाने का काम जोरों-शोरों से शुरू कर दिया है।
बीजेपी ने भी उनसे नाराज़ चल रहे किसानों को अपने पाले में लेने के लिए जुगाड़ लगाने शुरू कर दिए हैं। इस कड़ी में देश के प्रधानमंत्री मोदी आज पंजाब के मलोट में रैली के लिए पहुंचे हैं। लेकिन यहाँ पर उनका स्वागत नहीं बल्कि विरोध किया जा रहा है।

1. रैली करने पहुंचे PM मोदी का पंजाब में हुआ विरोध

पंजाब के मलोट में कई संगठनों से जुड़े किसानों ने पीएम मोदी की रैली का विरोध किया है। खबर सामने आई है कि इस दौरान किसानों ने पीएम मोदी की रैली में काले झंडे लहराए हैं। हालांकि पीएम मोदी की सुरक्षा के कड़े इंतज़ाम किए गए थे। पीएम मोदी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों पर पुलिस ने लाठीचार्ज भी किया। इसके साथ रैली में ज्यादातर कुर्सियां खाली नज़र आई।

2. किसानों ने लहराए काले झंडे

वहां पर मौजूद पुलिस और सुरक्षा कर्मियों कुछ दूरी पर ही प्रदर्शन करने पहुंचे किसानों को रोक दिया और कुछ को हिरासत में ले लिया गया है। बताया जा रहा है कि इस रैली में पंजाब, हरियाणा और राजस्थान से किसान पहुंचे हुए थे। क्योंकि मलोट शहर इन तीनों राज्यों की सीमाओं से जुड़ा हुआ है। आपको बता दें कि पीएम मोदी यहाँ पर शिरोमणि अकाली दल द्वारा आयोजित ‘धन्यवाद रैली’ को संबोधित करने आए थे।

निष्कर्ष: गौरतलब है कि केंद्र में सत्तारूढ़ मोदी सर्कार ने देश के किसानों से कई वादे किए थे। जोकि इन चार सालों में पूरे नहीं किए गए हैं। देश का किसान वर्ग मोदी सरकार  से नाराज़ चल रहा है।


शेयर करें

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े