शेयर करें
  • 83.4K
    Shares

एक दौर था जब देश के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री हुआ करते थें, फिर मोदी का राज आया और राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री पार्टी के होने लगे.

यही वजह है कि एक दलित छात्र ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मेडल लेने से इंकार कर दिया. पता नहीं, क्यों भाजपा ने देश में ऐसा माहौल बना दिया है जिससे हर चीज हमें विवादित गलियों से आती जाती हुई दिखाई देती है.

राष्ट्रपति कोविंद के बहिष्कार की यह घटना घटी है देश के प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय बाबा साहेब डॉ भीमराव आम्बेडकर यूनिवर्सिटी का.

यूनिवर्सिटी का टॉपर छात्र

जिस छात्र ने भाजपाई राष्ट्रपति कोविंद से मेडल लेने से इंकार किया, वो कोई साधारण छात्र नहीं बल्कि अपनी यूनिवर्सिटी का गोल्ड मेडलिस्ट छात्र है.

रामेंद्र नरेश नाम का यह छात्र आम्बेडकर यूनिवर्सिटी के 2013 16 सत्र का मास्टर इन कंप्यूटर एप्लीकेशन का छात्र था. फाइनल एग्जाम में नरेश ने पूरी यूनिवर्सिटी में टॉप किया था.

दलित उत्पीड़न की घटनाओं से दुखी

रामेंद्र का मानना है कि जब से देश में आरएसएस के नियंत्रण वाली भारतीय जनता पार्टी और नरेंद्र मोदी की सरकार आई है तब से देश के हर हिस्से में दलितों का उत्पीड़न और शोषण की घटनाओं में लगातार इजाफा हुआ है.

खास तौर पर विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में दलित छात्रों के साथ शोषण और सौतेला व्यवहार किया जाने लगा है. मैं इससे बहुत ज्यादा दुखी और व्यथित हूं. आखिर दलित भी तो इंसान हैं.

मेडल लेने से किया इंकार

पिछले 15 दिसंबर को यूनिवर्सिटी में दीक्षांत समारोह का आयोजन किया गया था जिसमें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद मुख्य अतिथि के तौर पर आमंत्रित थें.

कोविंद के हाथों ही टॉपर स्टूडेंट्स को सम्मानित किया जाना था लेकिन रमेंद्र ने सम्मान लेने से इंकार कर दिया.

रमेंद्र ने कहा कि जिस समय देश के दलितों पर अत्याचार की घटनाएं घट रही थी, उस समय कोविंद को मुंह क्यों नहीं खुला ?

जब देश के अलग अलग हिस्सों में दलितों को हीन दृष्टि से देखा जा रहा है और प्रताड़ना की घटनाएं सामने आ रही है तो कोविंद जी का कोई छोटा सा बयान क्यों नहीं आता ? यही वजह है कि मैं ऐसे शख्स का बहिष्कार करता हूं और इसके हाथों से सम्मान लेने से इंकार कर रहा हूं.

https://www.indiatoday.in/education-today/news/story/dalit-student-refuse-to-accept-medal-from-president-ram-nath-kovind-1107942-2017-12-15


शेयर करें
  • 83.4K
    Shares