शेयर करें

जैसे जैसे चुनाव नजदीक आ रहे हैं बीजेपी को उतना ही डर सता रहा है, क्योंकि इस बार चुनाव किसी क्रिकेट मेच की तरह होने वाला हैं. जिसने आखिरी बोल पार छक्का मार दिया जीत उसी के नाम होने वाली है. खैर बीजेपी के कुछ नेता उनका साथ छोड़ रहे हैं तो कुछ नेता उनकी सच्चाई लोगों के सामने ला रहे हैं.

बीजेपी का साथ छोड़ने वाले नेताओं का कहना है की बीजेपी सिर्फ वोटों की राजनीति जानती है. हाल ही में दरभंगा बिहार के सांसद ने भी इस बात का खुलासा किया है की वो बीजेपी से किनारा कर रहे हैं, क्योंकि उनके पास वादों के अलावा कुछ है ही नहीं.

1.कीर्ति आजाद दे सकते हैं कांग्रेस का साथ

दरभंगा बिहार में बीजेपी की तरफ से लगातार तीन बार सांसद रहने वाले कीर्ति आजाद को बीजेपी ने निलंबित कर रखा है. बीजेपी के अनुसार उन्होंने पार्टी का कुप्रचार किया है. पर सच तो यह है की कीर्ति आजाद ने पार्टी की असलियत लोगों को बताई है. कीर्ति आजाद के अनुसार वो इस बार किसी बड़ी पार्टी से लोकसभा चुनाव लड़ने वाले हैं.

उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा की उनके पिता कांग्रेसी थे और वो बिहार के मुख्यमंत्री भी रहे हैं. इतना ही नहीं वो एक स्वंत्रता सेनानी भी है. यह कहते हुए उन्होंने कहा की मैंने बीजेपी का साथ दिया पर जब बीजेपी से मैंने साथ माँगा तो बीजेपी ने मेरी बातों पर ध्यान भी नहीं दिया.

2.राहुल गांधी की तारीफ़ में कीर्ति आजाद ने कहा यह

कीर्ति आजाद ने एक इंटरव्यू में कहा की राहुल गांधी एक अच्छे नेता हैं. हालाँकि बीजेपी उनकी टांग खींचने में कसर नहीं छोड़ती है. सोशल साइट्स की मदद से और अपनी आईटी सेल की मदद से वो राहुल गांधी को लोगों की नजर में एक कॉमेडियन के रूप में पेश कर रही है पर ऐसा बिलकुल भी नहीं है.

राहुल गांधी एक समझदार और अच्छे नेता है. 2019 के लोकसभा चुनावों में हो सकता है की अगले चुनाव में मेरा साथ भी इनके साथ हो. खैर अभी तक मैं भाजपा में हूँ और मुझे लगता है की बहुत जल्द मैं किसी बड़ी पार्टी का हाथ थामने वाला हूँ.

3.कांग्रेस ने किया स्वागत, बोले अच्छे लोगों के लिए कांग्रेस हमेशा तैयार रहती है

कांग्रेस के कुछ नेताओं ने कीर्ति आजाद का स्वागत करते हुए कहा की अच्छे लोगों के लिए कांग्रेस के दरवाजे हमेशा खुले रहते हैं. कांग्रेस पार्टी में किसी भी तरह का द्वेष नहीं है. वो उन लोगों का जरुर साथ देती है जो अपने क्षेत्र का विकास चाहते हैं.

कीर्ति के लिए कांग्रेस हमेशा तैयार रहेगी, क्योंकि उनके पिताजी कांग्रेस के बहुत बड़े नेता रह चुके हैं. ऐसे में कांग्रेस उनके साथ हमेशा खड़ी रहेगी. कांग्रेस के कुछ नेताओं ने कहा की हम ऐसे अनेक नेताओं को भी शामिल करने वाले हैं जो देश और देश के विकास के बारे में सोचते हैं ना की किसी एक पार्टी के बारें में.

निष्कर्ष: जिस तरह बीजेपी से उनके नेता खफा हो रहे है ऐसा लग रहा है की बहुत जल्द बीजेपी की पोल खुलने वाली है. इन दिनों कीर्ति आजाद ही नहीं शत्रुघ्न सिन्हा भी बीजेपी से नाराज है और वो भी अगले चुनाव में महागठबंधन का साथ दे सकते हैं.

Story Source:https://www.amarujala.com/india-news/bjp-suspended-its-member-of-parliament-kirti-azad-and-now-he-would-be-join-congress

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

शेयर करें