‘तलाक़ तीन पे जब तीन साल क़ैद मिले, तो सात फेरों पे फिर सात साल हो साहब’ : शायर इमरान प्रतापगढ़ी - वायरल इन इंडिया - Viral in India - NEWS, POLITICS, NARENDRA MODI

‘तलाक़ तीन पे जब तीन साल क़ैद मिले, तो सात फेरों पे फिर सात साल हो साहब’ : शायर इमरान प्रतापगढ़ी

तीन तलाक़ को लेकर जहाँ बीजेपी केवल अपने फ़ायदे के लिए टिप्पणी देने से नहीं रूकती तो वहीं इस मुद्दे पर जारी तीखी राजनैतिक बहस के बीच अब युवा शायर इमरान प्रतापगढ़ी ने सोशल मीडिया पर नरेंद्र मोदी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए उनपर कई सवाल खड़े कर दिए हैं.

जी हाँ इमरान ने मोदी सरकार की नीयत पर सवाल उठाते हुए और उनको मुस्लिम विरोधी बताया और फेसबुक पर लिखा कि “तीन तलाक़ का कानून लाने के पीछे सरकार का असली मकसद मुसलमानों की ज़िन्दगी में दखल देकर उन्हें परेशान करना है.”

source

तीन तलाक मुद्दे को लेकर शायराना अंदाज में इमरान ने साधा मोदी सरकार पर निशाना 

जैसा सब जानते है कि अपने शायराना अंदाज़ में मोदी सरकार पर हमला बोलने के लिए इमरान अक्सर सुर्खियों में रहते हैं. ऐसे में अब तीन तलाक़ मुद्दे पर भी उन्होंने सरकार को अपने इसी शायराना अंदाज में कुछ यूँ घेरा:–

बराबरी का अगर सबका हाल हो साहब,

तो फिर किसी भी न दिल में मलाल हो साहब!

तलाक़ तीन पे जब तीन साल क़ैद मिले,

तो सात फेरों पे फिर सात साल हो साहब!

ये शायरी अपने फेसबुक पेज पर इमरान प्रतापगढ़ी ने लिखते हुए कहा कि “तीन तलाक़ को सुप्रीम कोर्ट पहले ही बैन कर चुका है, तीन तलाक़ पर क़ानून लाने की कोई ज़रूरत भी नहीं थी, लेकिन सरकार का असल मक़सद आम मुसलमानों की ज़िंदगी में दख़ल देकर उन्हें परेशान करना है.”

इमरान प्रतापगढ़ी ने मोदी सरकार के खिलाफ़ शुरू कर दी है मुहिम

बता दें कि जहाँ मोदी सरकार तीन तलाक पर तीन साल की कैद का कानून लाना चाहती है तो वहीं विपक्ष इस बिल पर और विचार विमर्श करने के लिए इसे सेलेक्ट कमेटी के पास भेजने की मांग कर रहा है. जिससे देखते हुए इमरान प्रतापगढ़ी ने सीधे तौर पर अपने तमाम समर्थकों से शायराना अंदाजा में निवेदन करते हुए कहा कि उन्हें इस कानून के खिलाफ जनमत बनाने के लिए काम करना चाहिए.

source

इमरान को मिल रहा है कांग्रेस का समर्थन

इमरान ने तीन तलाक के नए कानून पर देश के मुस्लिमों को दिलासा देते हुए ये भी कहा कि, “मेरी कॉंग्रेस के कई नेताओं से बात हुई है, राज्यसभा में इस बिल को कॉंग्रेस बिना सुधार के पास नहीं होने देगी. साथ ही आप सबसे गुज़ारिश है कि RJD, TMC, BJD, NCP, SP, BSP, Congress, के जिन भी राज्यसभा सांसद को जानते हैं उसे ट्विटर और फेसबुक के ज़रिये टैग करके इस क़ानून को लाने के मंसूबे पर अपना विरोध दर्ज करवाइये.”

source

तीन तलाक़ के मुद्दे पर संशोधन की बात संसद में उठाने वालों का इमरान ने किया धन्यवाद

इस गंभीर मुद्दे पर लिखते हुए इमरान प्रतापगढ़ी ने फेसबुक पेज पर ये भी लिखा कि “हर मुद्दे पर सिर्फ गाली गलौज करने से काम नहीं चलेगा, अपना सलीक़े का विरोध दर्ज करवाइये. तीन तलाक़ के मुद्दे पर जिन जिन लोगों ने संशोधन की बात संसद में उठायी उनका शुक्रिया.”

Related Articles

Close