RELATED:अगर सुप्रीम कोर्ट ने ये विडियो देख लिया तोह...

निम्न स्तरों से शुरुवात करते हुए भाजपा अपनी हासिल की हुई ज़मीन खो रही है और ये कोई छोटी बात नही है | हाल ही में जितने भी छोटे स्तर पर चुनाव हुए है भाजपा के नेता दूसरी पार्टी के नेताओ से हारते नज़र आ रहे है |

अब कॉलेज लेवल पे हुए चुनावों को ही देख लो | बीजेपी की स्टूडेंट विंग एबीवीपी जो 4 सालो से प्रेसिडेंट के पोस्ट पर काबिज़ थी आज कांग्रेस की स्टूडेंट विंग एनएसयूआई ने बाज़ी मारी |

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक बीजेपी की स्टूडेंट विंग एबीवीपी 4 साल से प्रेसिडेंट पोस्ट पर काबिज थी, लेकिन इस बार एनएसयूआई कैंडिडेट रॉकी तुषीद को जीत मिली।

इलेक्शन के लिए मंगलवार को 43% वोटिंग हुई। इसमें 50 से ज्यादा कॉलेजों के 1 लाख 30 हजार स्टूडेंट्स ने वोट डाला। वहीं, कॉलेज यूनियन के चुनावों के नतीजे का एलान मंगलवार देर रात ही कर दिया गया।

कौन कौन है चुनाव मैदान में?


दिल्ली यूनिवर्सिटी स्टूडेंट यूनियन (DUSU) इलेक्शन में एनएसयूआई से रॉकी तुषीद ने प्रेसिडेंट की पोस्ट पर बाजी मारी | सेक्रेटरी पोस्ट पर एबीवीपी की महामेधा नागर को जीत मिली| हालाँकि शुरुवात से ही एबीवीपी, प्रेसिडेंट, वाइस प्रेसिडेंट, सेक्रेटरी और ज्वाइंट सेक्रेटरी की पोस्ट पर एनएसयूआई से आगे चल रही थी लेकिन 7वें और 8वें राउंड में अचानक से एनएसयूआई को बढ़त मिली |

इस बार प्रेसिडेंट पोस्ट के लिए ABVP की ओर से रजत चौधरी, NSUI की ओर से रॉकी तुषीर, आइसा के पॉल चौहा, निर्दलीय राजा चौधरी और अल्का चुनाव मैदान में हैं।

एबीवीपी ने कर ली थी जश्न की तैयारी जो बाद में फ्लॉप हो गयी

भाजपा का ओवर कॉन्फिडेंस ही उसे लिए डूब रहा है क्योंकि यहाँ भी वही हुआ | पिछले चार साल से डूसू इलेक्शन में परचम लहराने वाली एबीवीपी नतीजों से पहले अपनी जीत पक्की मान रही थी। इसलिए पहले से जश्न की तैयारी भी कर ली थी।

देखिये वीडियो:-

News Source: https://www.bhaskar.com/news/NAT-NAN-delhi-university-student-union-elections-results-updates-5693657-NOR.html?seq=6&ref=ht

--- ये खबर वरिष्ठ पत्रकार के द्वारा लिखी गयी है वायरल इन इंडिया न्यूज़ पोर्टल के लिए

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट मैं छोड़े