कांग्रेस का वो एक "नाम" जिसने राजस्थान में बीजेपी को किया चारो खाने चित - वायरल इन इंडिया - Viral in India - NEWS, POLITICS, NARENDRA MODI

कांग्रेस का वो एक “नाम” जिसने राजस्थान में बीजेपी को किया चारो खाने चित

पिछले साल के अंत में गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान ही राहुल गांधी को कांग्रेस पार्टी की कमान दी गई थी. इन्हीं चुनावों के नतीजों ने कांग्रेस में उर्जा भरने का काम किया. और अब राजस्थान में हुए उपचुनाव के नतीजों ने कांग्रेस को एक बार फिर जश्न मनाने का मौका दे दिया है.

कांग्रेस के अच्छे प्रदर्शन में हर जगह थे कांग्रेस के वरिष्ट नेता ​अशोक गहलोत

पहले पंजाब, फिर गुजरात और अब राजस्थान, कांग्रेस की इन सब जीत में एक नाम कॉमन रहा है. और वो है राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ट नेता ​अशोक गहलोत का. शायद यहीं कारण है कि पहले राहुल गांधी और अब ​प्रियंका गांधी भी खुद अशोक गहलोत की तारीफ करने से पीछे नहीं हट रहे हैं.

राहुल के साथ प्रियंका गाँधी ने भी की गहलोत की तारीफ़

एक फरवरी को राजस्थान उपचुनावों के नतीजों में बीजेपी से तीनों सीटें जीतने के बाद जहाँ उत्साहित कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने समस्त राजस्थान कांग्रेस को दिल से बधाई दी. तो वहीं प्रियंका गांधी ने भी पार्टी की जीत पर ख़ुशी व्यक्त करते हुए फेसबुक पर एक खबर को शेयर किया और लिखा कि “पूर्व मुख्यमंत्री और एआईसीसी सदस्य अशोक गहलोत ने आमजन का सहींं आंकलन किया था. गहलोत जी पहले ही कह चुके थे कि यह एक तरफा खेल होगा.”

राजस्थान की जीत कांग्रेस के लिए गहलोत का जादू साबित हुई 

कांग्रेस पार्टी के लिए राजस्थान की ये जीत अशोक गहलोत की राजनीति का जादूगर भी मानी जा रही हैं. अगर बीते कुछ सालों के आकड़ों को देखें तो कई वर्षों में देश भर में कांग्रेस लगातार कई महत्वपूर्ण चुनाव हारी है, लेकिन अशोक गहलोत को कांग्रेस आलाकमान ने जिन भी राज्यों की जिम्मदेारी सौपी वहां पार्टी ने अपना बेहतर प्रदर्शन दिया.

अहमद पटेल की बचाई थी राज्यसभा सीट

फिर चाहे पंजाब की भाग-दौड़ हो या गुजरात चुनाव में पार्टी का बेहतर प्रदर्शन, गहलोत ने दोनों ही जगह कांग्रेस की एक अच्छी वापसी कराई है. यहीं नही अगर राज्यसभा सीटों की बात करे तो वो गहलोत ही थे जिन्होंने सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल की राज्यसभा सीट बचाने में भी अहम भूमिका निभाई थी.

बीते कई सालों में गहलोत को भी आई कई दिक्कते

गौरतलब है कि, राजस्थान की राजनीति और कांग्रेस में अहम भूमिका रखने वाले अशोक गहलोत को अपनी ही पार्टी में कई तरह की मुश्किलों का भी सामना करना पड़ा है. फिर चाहे वो कांग्रेस पार्टी द्वारा राजस्थान में कांग्रेस की कमान सचिन पायलट को सौंपना हो या फिर अलवर से सांसद रहे पूर्व केन्द्रीय मंत्री भंवर जितेन्द्र सिंह, डॉ सी पी जोशी सरीखे जैसे बड़े नेताओं से अशोक गहलोत की बढ़ती दूरियाँ हो.

कांग्रेस ने अपनी जीत का श्रेय पार्टी एकजुटता को दिया

लेकिन, बावजूद इन सभी परेशानियों के 1 फरवरी को जैसे ही राजस्थान के उपचुनाव के नतीजे आए तो कांग्रेस अपने सारे गिले-शिकवे भूल इस जीत का सारा श्रेय पार्टी एकजुटता को देती दिखी.

सचिन और गहलोत की जुगलबंदी राजस्थान में कांग्रेस के काम आई

दरअसल, इन चुनावों के दौरान सचिन पायलट और अशोक गहलोत खेमे हर जगह साथ खड़े नज़र आए. परिणामस्वरूप भाजपा को उपचुनाव में बंपर मतों से हार मिली. ऐसे में कांग्रेस इस जीत को आने वाले विधानसभा चुनावों की जीत की ओर बढ़ता पहला कदम मान रही है.

Story Source: https://www.amarujala.com/photo-gallery/jaipur/rahul-and-priyanka-gandhi-likes-this-rajasthan-congressman-so-much?pageId=3

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

Close