पूर्व मुख्यमंत्री के खुलासे से बीजेपी कार्यालय में हडकंप, मोदी ने विदेश में क्या खाया था पढ़ लीजिये

शेयर करें

कहने को तो देश की सियासत में बड़े बड़े बोल सुनना कोई बड़ी बात नहीं है, और जब बात आती है भारतीय राजनीति की तो यह बोलबाजी की राजनीति यहां पर बहुत ज्यादा चलती है।

बीजेपी ने भी सत्ता में आने से पहले देश की जनता को बहकाया

ऐसा ही कुछ हाल मौजूदा समय भारतीय जनता पार्टी का हाल है जिसने देश की सत्ता में आने से पहले तो इतने वादे किए देश की भोली जनता को अच्छे दिन आने वाले हैं का नारा दिया, लेकिन बीजेपी की सरकार के 4 साल बाद भी सरकार के कामकाज का कुछ पता नही है।

भाजपा का एक भी फैसला देश के हित में नहीं

भारतीय जनता पार्टी की अपनी सरकार के दौरान ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया है जो कि पूरी तरह से देश को उन्नति की ओर अग्रसर कर रहा हो। अपनी विवादित राजनीति में भाजपा ने केवल धर्म व जाति की सियासत की है। हिंदू को वोट बैंक के लिए इस्तेमाल करना और मुसलमानों को दंगे के लिए निशाना बनाना।

पार्टी के हजारों कार्यकर्ताओं ने एक साथ दिया इस्तीफा

इसके साथ ही भारतीय जनता पार्टी ने अपनी राजनीति में गाय को भी शामिल कर लिया है। इसलिए भाजपा के कई कार्यकर्त्ता अपनी ही पार्टी से नाराज चल रहे थे इसलिए मेघालय के पांच हजार कार्यकर्ताओं ने इस्तीफा भी दे दिया है।

भाजपा दल राजनीति में ऐसा रहा है जिसने हमेशा से ही हिंदुओं के मसलों को उठाकर उन्हें राजनीतिक मुद्दा बनाया है जिसमें वह बीफ का विरोध भी करती रही है।

लेकिन आपको बता दें कि सबसे मोटा चंदा भी उन्हें बीफ निर्यात करने वाली कंपनियां ही देती है। और इसका खुलासा एक न्यूज़ चैनल द्वारा किया गया था।

लगातार गौमांस के नाम पर भाजपा की राजनीति

लेकिन इन सबके बाद भी भारतीय जनता पार्टी भक्तों को बेवकूफ बनाती आ रही है। जब से केरल के पूर्व मुख्यमंत्री वी एस अच्युतानंदन ने विधानसभा सत्र में बोलते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर विदेशी यात्राओं के दौरान गौमांस खाने का गंभीर आरोप लगाया था। उन्होंने पशु बिक्री के लिए केंद्र सरकार के निर्देशों की भी  कड़ी निंदा की थी।

साल 2003 में, कांग्रेस पार्टी ने पूर्व प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी पर गौमांस खाने का आरोप लगाया था। अच्युतानंदन का भी कहना है कि, बीजेपी गाय को गौ-माता के नाम पर नई विचारधारा को बनाने की कोशिश कर रही है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा- मोदी विदेश में खाता है गाय का मांस

 

आईबीटी रिपोर्ट के मुताबिक, पूर्व मुख्यमंत्री ने केरल विधानसभा में एकमात्र बीजेपी विधायक राजगोपाल पर निशाना साधते हुए कहा था कि, मोदी सरकार का उद्देश्य अडाणी और अंबानी जैसे लोगों को मांस के कारोबार पर एकाधिकार दिलाना है।

इसके साथ उन्होंने ये भी कहा की मोदी विदेश में गाय का मांस खाता है और वो भी हिन्दू होकर


शेयर करें

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े