AAP (Aam Aadmi Party)

अमित शाह मोदी को बड़ा झटका, विधानसभा चुनाव से पहले यहां गिर सकती है बीजेपी सरकार, 111 विधायक…

भारतीय जनता पार्टी अब अपने ही पेंत्रे में फंसने जा रही है। ये किसी से भी छिपा नहीं है कि किस तरह भाजपा की तरफ से चुनाव आयोग के साथ सांथ-गांठ कर दिल्ली की सत्ता रुढ़ आम आदमी पार्टी को कमजोर किया जा रहा है।

दिल्लील के 20 विधायकों को किया गया था अयोग्य

लाभ के पद को लेकर दिल्ली की आम आदमी पार्टी के 20 विधायक अयोग्य करार दिए जा चुके हैं। पहले तो चुनाव आयोग ने इनकी सिफारिश राष्ट्रपति से की लेकिन राष्ट्रपति ने भी चुनाव आयोग की बात को मान कर इन 20 विधायकों को अयोग्य करार दे दिया।

भाजपा की बढ़ सकती है मुश्किलें

हालांकि इन बीस विधायकों के नुकसान के बावजूद भी फिलहाल केजरीवाल सरकार के सामने सरकार बचाने के लिए किसी भी तरह की परेशानी नजर नहीं आ रही है।

फिलहाल सरकार पूरी तरह से स्थिर है और बहुमत के मामले में भी अभी केजरीवाल सरकार काफी मजबूत दिखाई दे रही है, लेकिन आम आदमी पार्टी के विधायकों के खिलाफ की गई इस कार्यवाई के बाद अब भाजपा की भी मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

मध्य प्रदेश में गिर सकती है सरकार

दरअसल भारतीय जनता पार्टी के शासित राज्य मध्यप्रदेश में भी कुछ ऐसी ही तस्वीर पेश आ सकती है। यहां पर तो भाजपा के 116 विधायकों पर भी तलवार लटक रही है।

मध्यप्रदेश सरकार के 116 संसदीय सचिवों पर भी विधायकी खोने का खतरा मंडराने लग गया है। ऐसे में अगर भाजपा के ये 116 विधायक भी अयोग्य करार दिए जाते हैं तो मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार चुनाव से पहले ही गिर जाएगी।

आपको बता दें कि मध्यप्रदेश की कुल 185 सीटें है जिसमें से भाजपा के पास 157 सीटों के साथ बहुमत है जो कि बहुमत से ज्यादा है। लेकिन वहीँ इन भाजपा विधायकों के खिलाफ एक्शन लेने के लिए विपक्षी पार्टी कांग्रेस भी इस समय पूरी तरह से सक्रीय दिख रही है।

कांग्रेस ने लिखा पत्र

कांग्रेस समेत तमाम विरोधी दलों ने संसदीय सचिवों के खिलाफ जल्द से जल्द कार्रवाई करने के लिए चुनाव आयोग को पत्र लिखा है। दिल्ली के विधायकों के खिलाफ एक्शन लेने के बाद कयास लगाए जा रहा है कि अब चुनाव आयोग मध्यप्रदेश में भाजपा विधायकों पर भी एक्शन ले सकती है।

अगर ऐसा होता है तो ये भाजपा के लिए एक बहुत बुरी खबर होगी क्योंकि कुछ ही वक्त में यहां चुनाव होने है।

नयी खबर पढने के लिए अगले अगले पेज पे जाएँ

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े