बड़ी खबर: बीजेपी ने दिया मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को बड़ा झटका - वायरल इन इंडिया - Viral in India - NEWS, POLITICS, NARENDRA MODI

बड़ी खबर: बीजेपी ने दिया मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को बड़ा झटका

अक्सर बिहार की राजनीति के ‘गिरगिट’ कहे जाने वाले नीतीश कुमार ने एक बार फिर अपने रणनीतिक फ़ायदे के लिए  अपना असली रंग दिखाना शुरू कर दिया है. 

आगामी उपचुनाव पर नीतीश ने मारा यू-टर्न

जी हाँ बता दें कि बिहार में लोकसभा की एक और विधानसभा की दो सीटों के लिये आगामी उपचुनाव में नीतीश ने अपनी पार्टी जनता दल यूनाइटेड (JDU) की ओर से सभी सीटो को एनडीए के सहयोगियों के लिए छोड़ने का ऐलान कर एक बार फिर सबको हैरान कर दिया है.

आगामी उपचुनावों में JDU नहीं उतारेगी अपना कोई उम्मीदवार

नीतीश की ओर से ये घोषणा की गई कि अब उनकी पार्टी आगामी उपचुनावों में किसी भी सीट पर अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगी. ये घोषण खुद JDU के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण की ओर से की गई है.

भाजपा और एनडीए का रास्ता हुआ साफ़ 

जानकारी के लिए बता दें कि बिहार में कुल तीन सीटों पर अगले महीने उपचुनाव होने हैं. ऐसे में JDU द्वारा लिए गये इस फ़ैसले के बाद भाजपा और एनडीए के अन्य सहयोगी दलों की मनचाही मुराद पूरी होती दिख रही हैं. क्योंकि अब एनडीए इन तीनों सीटों पर अपनी उम्मीदवारी को लेकर निश्चिंत हो सकेगी.

हार के चलते पार्टी ने छोड़ी अपनी उम्मीदवारी 

राजनीतिक विशेषज्ञों की माने तो JDU द्वारा इस उपचुनाव से खुद को दूर करने के सिवा उसके पास कोई रास्ता नही बचा था. क्योंकि पार्टी के सरफराज आलम जैसे दिग्गज विधायकों के पार्टी छोड़कर जाने के बाद से ही इन चुनावों में पार्टी को अपनी जीत दर्ज कराना करीब-करीब असंभव सा लग रहा था.

दवाब के चलते नीतीश ने लिया ये फ़ैसला

वही कई लोग नीतीश कुमार के इस फैसलें के पीछे भाजपा और सहयोगी दलों का दवाब भी मान रहे है. इन्ही सभी वजहों को देखते हुए नीतीश कुमार और उसकी पार्टी ने ये उपचुनाव ना लड़ने में ही अपनी भालाई समझी है.

नीतीश के ऐलान के बाद भी एनडीए टूट सकती है

इस ऐलान के बाद जहाँ एनडीए में भाजपा दो सीटों पर जबकि रालोसपा एक सीट पर अब अपने-अपने उम्मीदवार उतार सकती है, तो वहीं मांझी की पार्टी की दावेदारी को लेकर अभी भी पेंच फंसा नज़र आ रहा है. क्योंकि याद हो कि मांझी ने खुद को सीट ना दिए जाने पर बीते दिनों एनडीए छोड़ने तक की घोषणा कर दी थी.

विपक्षी महागठबंधन यूपीए भी दिख रही है सक्रीय

इन उपचुनाव को लेकर विपक्षी महागठबंधन यूपीए भी बेहद सक्रीय दिख रहा है. कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अध्यक्ष कौकब कादरी की माने तो यूपीए से अररिया और जहानाबाद सीट से राजद पार्टी के उम्मीदवार और भभुआ सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार मैदान में उतर सकते हैं.

निष्कर्ष

इस पूरी राजनीति के घटना क्रम से जदयू मुखिया नीतीश कुमार बेहद असहाय नेता के तौर पर सामने आए हैं. अब ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा कि नीतीश कुमार का ये फ़ैसला महज समय के साथ समझौता था या सहयोगी दलों का दवाव.? जिसके परिणाम की अगली पठकथा लिखना भी नीतीश कुमार के लिए चुनौतीपूर्ण होने वाला है.

Story Source: http://www.thenationalive.com/bihar-bjp-move-to-next-party-may-be-nitish-kumar-upset/

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

Close