योगी 40 बच्चों की हत्या मामले में बस सफाई देता रह गया, वही अखिलेश कर दिया ये बड़ा काम…

गोरखपुर हादसे में जहाँ भाजपा सरकार खुद को बचाने की कोशिश में लगी हुई है वहीँ उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव उनसे मिलने गये और उनकी मदद करने की घोषणा भी की !

आपको बता दें कि अखिलेश यादव सड़क मार्ग से गोरखपुर गये थे ! खैर योगी सरकार ने इस मामले में जांच बैठाई है और कहा है एक हफ्ते में रिपोर्ट आएगी ! पता तो सबको है कि जब वकील आपका हो,जज आपका हो, तो फैसला आपके हक में ही आएगा !

क्या घोषणाएं की अखिलेश ने…?

अखिलेश इंसेफेलाइटिस से मृत दो मासूमों के घरवालों खोराबार के बेलवार में श्रीकिशुन गुप्ता और पिपरौली ब्लॉक के बाघाघाड़ा गांव में ब्रह्मदेव यादव से मिलने पहुंचे थे।अखिलेश ने कहा कि जहां भी गरीबों को मदद की जरूरत होगी वहां सपा उनके साथ खड़ी होगी !

मेडिकल कॉलेज की घटना में मृत सभी मासूमों के घरवालों को पार्टी अपने सदस्यता शुल्क से आई रकम में से दो-दो लाख रुपये आर्थिक मदद देगी। एक लाख जल्द मुहैया कराएंगे और एक लाख रुपये पार्टी के किसी बड़े नेता की मौजूदगी में दिया जाएगा।

 

पत्रकारों से क्या कहा…?

अखिलेश यादव जब यहाँ पत्रकारों के सामने आये तो उन्होंने कहा कि सरकार जवाब दे कि ओक्सिजन ख़त्म होने से मौतें हुई या नही? ऐसा इसलिए भी क्योकि डीएम का बयान है कि कुछ देर के लिए ओक्सिजन सप्लाई बंद हुई थी ! अखिलेश ने कहा कि सच्चाई तो ये है कि सरकार अपनी जिम्मेदारी ढंग से नहीं निभा पा रही है !

योगी पर बोला हमला

अखिलेश ने योगी आदित्यनाथ को घेरते हुए कहा कि योगी कहते है कि सडक से सदन तक उन्होंने इंसेफेलाइटिस की लड़ाई लड़ी है तो वे इस सम्बन्ध में जवाब दें कि स्वास्थ्य सेवाओं के लिए अब तक उन्होंने क्या किया? सपा सरकार में सभी अस्पतालों में हेल्थ इंफार्मेशन की व्यवस्था की गई थी, ताकि गंभीर बीमारियों के बारे तत्काल पता चलें।

जब से प्रदेश में भाजपा सरकार आई है तब से समाजवादी पार्टी की लगभग हर योजना बंद कर रही है तो उन्होंने ये व्यवस्था भी बंद करा दी !  हर स्वास्थ्य केंद्र पर इंसेफेलाइटिस ट्रीटमेंट सेंटर खोला गया था, जो वर्तमान में काम नहीं कर रहा है।

सरकारी डॉक्टरों के प्राइवेट प्रैक्टिस के सवाल पर अखिलेश ने कहा कि यह बंद कराना सरकार का काम है लेकिन किसी एक वर्ग को टारगेट कर कार्रवाई नहीं होनी चाहिए।

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

पोपुलर खबरें